Local Heading

परीक्षा केन्द्र पर खांसी- बुखार से पीड़ित छात्रों के लिए होगा अलग इंतजाम, प्रशासन अलर्ट

आगरा – विश्वविद्यालयों में पढ़ाई कर रहे अंतिम वर्ष या फिर सेमेस्टर के छात्रों को परीक्षा देनी होंगी। परीक्षा केन्द्र पर छात्रों को कई नियमों का पालन करना होगा। इसके लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने गाइडलाइन जारी कर दी है। यदि किसी छात्र को खांसी, बुखार या फिर कोरोना के लक्षण हैं, तो उसकी परीक्षा के लिए अलग इंतजाम करना होगा या फिर अन्य किसी दिन परीक्षा का मौका देना होगा।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने विश्वविद्यालयों के अंतिम वर्ष की परीक्षाओं को लेकर विस्तृत ब्योरा जारी किया है। यूजीसी ने एसओपी में विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों और उच्च शिक्षण संस्थानों के अंतिम वर्ष और सेमेस्टर परीक्षाओं को कराने के लिए दिशा-निर्देश बताए हैं। इसमें कहा है कि विश्वविद्यालयों के अंतिम वर्ष की परीक्षाएं 30 सितंबर तक आयोजित की जा सकती हैं।

यह भी पढ़ें – जैतपुर में बिजली विभाग की छापेमारी, काटे गए बिजली के अवैध कनेक्शन

परीक्षा में शामिल होने वाले विद्यार्थियों, परीक्षक समेत सभी लोगों का रिकॉर्ड दर्ज किया जाएगा, ताकि जरूरत पड़ने पर उन्हें ट्रेस किया जा सके। साथ ही परीक्षा केंद्र के फर्श, दरवाजे, दीवारें, फर्नीचर, रेलिंग, सीढ़ियां सभी को सेनेटाइज किया जाएगा।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More