Local Heading

बरेली: दरगाह झंडा शरीफ पर भी अकीदतमन्दों के आने पर लगी रोक

मुस्लिम घरानों में लोगों ने घरों में ही कुरान की तिलावत कर नमाज में मुल्क की हिफाजत के लिए दुआ की है.

बरेली(Bareilly): कोरोना वायरस से निपटने के लिए को जनता कर्फ्यू में लोगों ने बढ़ चढ़कर समझदारी दिखाई. मुस्लिम घरानों में लोगों ने घरों में ही कुरान की तिलावत कर नमाज में मुल्क की हिफाजत के लिए दुआ की है. किला क्षेत्र स्थित झंडा शरीफ दरगाह पर अकीदतमंदो के आने पर फिलहाल रोक लगा दी गई है.

इसे भी पढ़े:बरेली लॉकडाउन: मंडियों में उमड़ी भीड़, लोगों पर पुलिस ने बरसाई लाठियां

बरेली की यह पहली दरगाह है जिसने जनता कर्फ्यू का समर्थन करते हुए कदम बढ़ाए हैं. फूटा दरवाजा स्थित दरगाह झंडे शरीफ के गेट बंद, कोरोना वायरस से निपटने को बरेली से पहली दरगाह ने कदम बढ़ाए हैं. कमेटी के अध्यक्ष फराज मियां और झंडे शरीफ की देखरेख करने वाले कलीम मियां ने कहा कुछ लोग आए थे. भीड़ ना हो इसलिए उन्हें मना किया. दरगाह गेट को बंद कर दिया गया है. फराज मियां ने कहा कि जनता कर्फ्यू में हमारी भूमिका अहम है. इसलिए सभी लोगों को यही पैगाम दिया गया है, कि वह घरों में इबादत करें और मुल्क की सलामती के लिए दुआ करें.

घरों तक न पहुंचने वालों को परिवहन की बसों से पहुंचाएं

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो व्यक्ति घरों तक नहीं पहुंच पाए हैं और सड़कों पर हैं. जिला प्रशासन परिवहन विभाग की बसों के माध्यम से उन्हें उनके घर भेजने की व्यवस्था करें. लोकल स्तर पर फंसे लोगों को पीआरवी-112 से भेजा जाए. सीएम ने कहा कि गुड्स की सप्लाई करने वाले वाहनों को रोका न जाए

रिपोर्ट- सुधीर कुमार

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More