Local Heading
bareilly lic agent handicapped

फर्जी LIC एजेंट बन विकलांग को लगाया 50 हजार का चूना

विकलांग व्यक्ति ने फर्जी एलआईसी एजेंट के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है. पीड़ित ने पुलिस और प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है

बरेली: (Bareilly)। उत्तर प्रदेश के बरेली जनपद के मीरगंज स्थित गांव में फर्जी एलआईसी एजेंट बन एक विकलांग व्यक्ति से पचास हजार रुपये ठगने का मामला सामने आया है. जिसके बाद विकलांग व्यक्ति फर्जी एलआईसी एजेंट के खिलाफ कार्यवाही की मांग कर रहा है. पीड़ित ने पुलिस और प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है.

बरेली तहसील मीरगंज के गांव गोरा लोकनाथपुर निवासी सत्यपाल पुत्र गोविंद राम के पड़ोस के गांव सिंगरा निवासी रामबाबू प्रजापति उसके घर आया. रामबाबू प्रजापति ने सत्यपाल को बताया कि वह एलआईसी में बतौर बीमा एजेंट काम करता है. आरोपी ने उसे एक बीमा पॉलिसी के बारे में बताया. जिसके बाद पीड़ित ने बीमा पॉलिसी के बारे में गांव के लोगों से जानकारी हासिल की. गांववालों के कहने पर पीड़ित ने पचास हजार रुपये का इंतजाम किया. जिसके बाद पीड़ित ने आरोपी के जरिए पांच वर्ष के लिए एक एफडी करा ली.

लेकिन पांच साल पूरे होने के बाद जब पीड़ित ने आरोपी से एफडी की रकम के बारे में पूछा तो उसने एक फर्जी कागज उसे थमा दिया. जिसपर पीड़ित को कुछ शक हुआ. वह तुरंत एलआईसी के दफ्तर पहुंचा. जहां पहुंचकर उसने आरोपी और अपनी एफडी के बारे में जानकारी ली तो उसके पैरों के नीचे से जमीन ही खिसक गई. एलआईसी अधिकारियों ने बताया कि उनका इस नाम से कोई एजेंट काम नहीं करता. जिसके बाद पीड़ित को ज्ञात हुआ कि उसके साथ बड़ा फर्जीवाड़ा किया गया है. पीड़ित अब आरोपी के खिलाफ कार्रवाही की मांग कर रहा है.

Related posts

बरेली में सक्रिय मानव तस्कर, दूसरे राज्यों से लाकर बेची जा रही लड़कियां

MD. Shoaib

प्रमुख सचिव ने जलती देखी पराली, बहेरी इंस्पेक्टर के खिलाफ कार्रवाई के दिए निर्देश

MD. Shoaib

तुम्हारी नालायकी की वजह से सरकार को लोग गालियाँ देंगेः प्रमुख सचिव

MD. Shoaib

विकासखंड शेरगढ़: मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत कराई गई 34 बेटियों की शादी

Harish Singh

बरेलीः पराली जलाने पर लगेगा जुर्माना, कटेगा चालान

Harish Singh

सनसिटी विस्तार में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 5 गिरफ्तार

Harish Singh

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More