Local Heading
ब्रेन ट्यूमर से जूझ रहे हैं 'सुपर 30' के असली हीरो 2 super 30

ब्रेन ट्यूमर से जूझ रहे हैं ‘सुपर 30’ के असली हीरो

हाल ही में हुए एक इंटरव्यू में पता चला की आनंद कुमार, जिन पर फिल्म “सुपर 30” आधारित है वह ब्रेन ट्यूमर जैसी बिमारी से जूझ रहे हैं.

पटना(PATNA): ऋतिक रोशन की फिल्म ‘सुपर 30’ की रिलीज़ डेट जैसे जैसे करीब आ रही है, फिल्म को लेकर चर्चाएं तेज हो गयी है. लेकिन इस बार फिल्म नहीं ब्लकि फिल्म के असली हीरो आनंद कुमार की ज़िंदगी से जुड़ी एक सच्चाई सामने आई है.

दरअसल, हाल ही में हुए एक इंटरव्यू में पता चला की आनंद कुमार, जिन पर फिल्म “सुपर 30” आधारित है वह ब्रेन ट्यूमर जैसी बिमारी से जूझ रहे हैं. आनंद ने खुद इस बात का खुलासा किया. अपनी बायोपिक की रिलीज से पहले हुए एक इंटरव्यू में भावुक होकर आनंद कुमार ने बताया की कैसे वह जिंदगी और मौत के बीच झूझ रहे हैं.

कब हुई बिमारी की पुष्टी
आनंद कुमार ने बताया कि वो इस बात के लिए खुद को खुशकिस्मत मानते हैं कि वो जीवित रहते हुए अपनी जीवन यात्रा को पर्दे पर देख पाए. अपने इस इंटरव्यू में आनंद कुमार ने बताया कि कैसे उन्हें कुछ समय पहले सुनने में समस्या होती थी और अधिक चेकअप करने के बाद उन्हें पता चला की उनकी 80 से 90 प्रतिशत सुनने की योग्यता खो चुकी है. जिसके इलाज से भी उन्हें कोई आराम नहीं मिला. फिर 2014 में दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में अपना इलाज करवाते समय उनको पता चला कि उन्हें ब्रेन ट्यूमर है.

फिल्म ‘सुपर 30’ की कहानी
आनंद कुमार एक प्रसिद्ध शिक्षक है जो आईआईटी-जेईई के लिए छात्रों को प्रशिक्षित करते हैं, जिन्होंने एक शिक्षक के रूप में कई लोगों के भविष्य को बदल दिया, उन्हें 2010 में टाइम पत्रिका में ‘द बेस्ट ऑफ एशिया’ लिस्ट में शामिल कर सम्मानित किया है. फिल्म ‘सुपर 30’ उनकी ज़िंदगी पर बनी फिल्म है और अभिनेता ऋतिक रोशन इस फिल्म में उनका किरदार निभा रहे हैं.

Related posts

हाथों से बड़ी हैं 12 साल के इस बच्चे की उंगलियां,राक्षस कहकर पास नहीं आते लोग!

Deepanshi

लखनऊ की Multi Level Parking देखकर उत्तर भारत रह जायेगा भौंचक्का!

Alok Verma

अजब-गजब: Mercedes कार से भी महंगी है युवराज भैंसे की कीमत!

Deepanshi

OMG: 24 साल के युवक के कान में मिले 10 कॉकरोच

Ramta

लखनऊ के इस स्कूल में सांप (SNAKES) पढ़ने आते हैं, प्रिंसिपल चाह रही हैं मदद

Alok Verma

देखते रह जाएँगे, पर खा नहीं पाएँगे

Anil

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More