Local Heading

केजरीवाल साहब, ये किसे दे दिया दिल्ली की सुरक्षा का जिम्मा?

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दिल्ली की सुरक्षा का जिम्मा उसी विदेशी कंपनी को दे जाला जिसपर जासूसी का आरोप लग चुका है. जी हां. ये बात सुनने में अजीब लग सकती है लेकिन है सच.

नई दिल्ली (New Delhi) दिल्ली सरकार ने 1 लाख 50 हजार सीसीटीवी कैमरे लगाने की जिम्मेदारी प्रमा हिकविजन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड  को दिया है. इस कंपनी के 58 फीसदी शेयर पर चीनी सरकार का  अधिकार है. इस कंपनी को अमेरिकी सरकार ने जासूसी करने के आरोप में ब्लैकलिस्ट किया हुआ है.

वहीं, मिली जानकारी के मुताबिक प्रमा हिकविजन के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ आशीष धाकन ने माना है कि कंपनी के 58 फीसदी शेयर पर चीनी सरकार का अधिकार है, धाकन का कहना है कि इनके उत्पादों को भारत में ही बनाया जा रहा है. वही, दिल्ली की सुरक्षा में लग रहे इन कैमरों से प्राप्त सर्विलांस डाटा को चीन को ट्रांसफर नहीं किया जाएगा. हमने इस डील से जुड़े भारतीय सुरक्षा प्रमाणपत्र हासिल कर लिए हैं.

वहीं, दिल्ली सरकार के इस फैसले की विपक्ष ने कड़ी आलोचना की है. बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्ह राव ने कहा कि ये जानकारी पूरी तरह से निराशजनक है. चुनाव नजदीक है तो वे अपने वादों को पूरा करने के लिए ऐसा कर रहे हैं. यह पूरी दिल्ली की सुरक्षा को खतरे में डाल रहे हैं. बीजेपी के फायरब्रांड नेता और सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने अरविंद केजरीवाल को नक्सली करार दिया है.

मालूम हो कि बीते कई सालों से चीन पर आरोप लगते रहे हैं कि वह अपने उत्पादों विशेषकर इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों के जरिए अन्य देशों के डाटा को एक्सेस करता है. हाल ही में यूएस एयर फोर्स ने हिकविजन के साथ करार रद्द कर दिया था. अमेरिकी सरकार ने इस कंपनी को एंटिटि लिस्ट में डाला हुआ है. जिसका मतलब ये है कि कोई भी यूएस फर्म हिकविजन को अपना उत्पाद नहीं बेच सकती. अमेरिका ने सुरक्षा के मद्देनजर ये फैसला लिया है.

बहरहाल, सीएम केजरीवाल ने चुनाव के दौरान वादा किया था कि वे दिल्ली को सुरक्षित बनाने के लिए सीसीटीवी कैमरा लगाएंगे. चुनाव से पहले केजरीवाल सरकार इस दिशा में आगे बढ़ रही है लेकिन इस फैसले से उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं.

Related posts

सुषमा स्वराज ने दिया ट्रोलर्स को मुंहतोड़ जबाव

Ravinder Kumar

कांग्रेस पर छाया संकट, अब कौन लगायेगा ‘बेड़ा पार’

Ravinder Kumar

कहीं यूं ही न मर ना जाए ‘उर्दू-पंजाबी भाषा’

Ravinder Kumar

दिल्ली के ‘चिराग दिल्ली’ का सच क्या है?

Ravinder Kumar

नहीं रहीं दिल्ली के दिल में रहने वाली पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित

Ravinder Kumar

বীরভূমে তৃণমূল নেতার বাড়ি লক্ষ্য করে বোমাবাজি

Rohit Jha

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More