Local Heading

शाहीन बाग में पिस्तौल के दम पर प्रदर्शनकारियों से बात करने पहुंचा शख्स

दिल्ली (Delhi), राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर शाहीन बाग़ में पिछले डेढ़ माह से प्रदर्शनकारी धरने पर बैठे हैं. वहीँ दिल्ली चुनाव में शाहीन बाग़ के आन्दोलन को बीजेपी पार्टी के छोटे नेताओं से लेकर गृहमंत्री तक निशाना बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. इसी बीच उन प्रदर्शनकारियों में के बीच एक वयक्ति उनसे बातचीत करने के लिए पिस्तौल लेकर पहुँच गया.  

बता दें कि इस प्रदर्शन में महिलाओं की ज्यादा भागीदारी है वहीं नौजवानों से लेकर बुजुर्गों और बच्चे भी इस प्रदर्शन में दिखने को मिलते हैं. मंगलवार को जब वह शख्स पिस्तौल लेकर उनके बीच पहुंचा तो प्रदर्शनकारियों में अफरा तफरी मच गई. वहीँ प्रदर्शनकारियों का कहना है कि आये दिन उनके प्रदर्शन में अराजकता फ़ैलाने की कोशिश की जा रही है, लेकिन हम हार नहीं मानने वाले सरकार को हमारी बातें माननी होगी.

इन्हें भी पढ़ें : ‘मौत का फरिश्ता’ 30 जनवरी को पहुंचेगा तिहाड़!

बता दें कि सोमवार को वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरसिया और सुधीर चौधरी भी शाहीन बाग़ प्रोटेस्ट में पहुंचे थे. इस पर प्रदर्शनकारियों ने उनके देख गोदी मीडिया गो बैक के नारे लगाये और उनको बिना रिपोर्टिंग के वापस कर दिया. बता दें कि 15 दिसंबर से चल रहे इस प्रदर्शन में कई विश्वविद्यालय के छात्रों समेत अनेक पार्टियों के राजनेता और मशहूर हस्तियां शामिल हो चुकी हैं. वहीँ दिल्ली विधानसभा चुनाव में शाहीन बाग़ का मुद्दा केन्द्रित कर दिया गया है.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More