Local Heading

शराब, जेब और शरीर दोनों में करती है सुराख

स्मॉकिंग हो या ड्रिंकिंग दोनों स्वास्थ्य के लिए खतरनाक होते हैं. कैंसर के अलावा अनेकों प्रकार की बीमारियाँ को सिगरेट और शराब जन्म देती हैं. आमतौर पर माना जाता है कि सिगरेट से ज्यादा शराब हानिकारक होता है, लेकिन ऐसा नहीं है.

एक शोध में यह बात सामने आई है कि एक सप्ताह में 750 मिलीलीटर शराब पीने से कैंसर का खतरा उतना ही बढ़ता है जितना एक सप्ताह में महिलाओं के 10 सिगरेट और पुरुषों के 5 सिगरेट पीने से बढ़ता है.

शराब पीने से महिलाओं में ब्रेस्ट और पुरुषों में पेट और लिवर के कैंसर के ख़तरे बढ़ते हैं. शोधकर्ताओं की टीम ने कैंसर रिसर्च यूके के कैंसर के ख़तरों पर आधारित डेटा का इस्तेमाल किया है. इसके साथ ही टीम ने तंबाकू और शराब से होने वाले कैंसर मरीज़ों के डेटा का अध्ययन किया.

अध्ययन में सिर्फ़ कैंसर पर बात की गई है, दूसरे बीमारियों पर नहीं. सिगरेट पीने वालों में दिल और फेफड़ों के रोग ज़्यादा होते हैं. अध्ययन में 2004 के डेटा का इस्तेमाल किया गया है और कैंसर के अन्य कारणों को इसमें शामिल नहीं किया है.

अध्ययन बताता है कि शराब के मुक़ाबले सिगरेट पीना कैंसर के लिए अधिक ख़तरनाक है. अन्य बीमारियों की बात करें तो सिगरेट शराब से कहीं अधिक ख़तरनाक है.

Cigarettes vs. Alcohol

Related posts

नींबू लेने गई मासूम को दुकानदार के बेटे ने बनाया हवस का शिकार

Ramta

एआरटीओ का ड्राइवर भी नहीं लगाता है सीट बेल्ट!

Asif Ali

विवादों में रही हैं एसपी संगीता कालिया

Ramta

शराब बेचने से रोकने पर बढ़ा विवाद, जिम संचालक पर की ताबड़तोड़ फायरिंग

JITENDER MONGA

सावधान: दिमागी बुखार के तांडव के बाद अब बच्चों पर विकलांगता का खतरा

Ravinder Kumar

क्यों गिरा ‘दिल्ली का जलस्तर’

Ravinder Kumar

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More