Local Heading
54 वर्षों से बिंदास होगा आईआईटी का अंतरागिनी- 2019 2 54 वर्षों से बिंदास होगा आईआईटी का अन्तर्रागिनी 2019

54 वर्षों से बिंदास होगा आईआईटी का अंतरागिनी- 2019

कानपुर आईआईटी एक बार फिर से अपना विशिष्ट कार्यक्रम अन्तर्रागिनी लेकर छात्रों के बीच उपस्थित हो रहा है। अन्तर्रागिनी का इस बार ये 54वाँ संस्करण होगा जो 17 से 20 अक्टूबर तक चलेगा।

आईआईटी कानपुर की पहचान बन चुके अन्तर्रागिनी में इस बार फ्यूजन नाईट, रॉक नाईट, रेवर बेरेशन, तथा ब्लिटस सहित चार पेशेवर नाईटस होंगे जो आकर्षण का केन्द्र रहेंगे। कार्यक्रम में एक ओर जहाँ व्हेन चाय मेट टोस्ट समाँ बाँधेगा तो वहीं दूसरी तरफ मशहूर गायक शंकर एहसान लॉय अपनी शानदार प्रस्तुती से सभी को झुमाएंगे।

फेस्टिवल के दौरान मि. एवं मिसेज अन्तर्रागिनी पर्सनॉलिटी प्रजेंट, इंडिया हॉट, डायरेक्ट कट, कवि सम्मेलन, कैलिप्सो, जिटरबर्ग, काव्यांजली, डीजे वॉर, बैटल रैप आदि कार्यक्रम मुख्य आकर्षण का केन्द्र रहेंगे। इसके अलावा डांस, ड्रामेटिक्स, म्यूजिकल्स, फाईन आर्ट्स, फिल्म्स व फोटोग्राफी के साथ साथ इंग्लिश व हिंदी प्रतियोगिता का आयोजन भी किया जाएगा। कार्यक्रम में राजेश खट्टर, आज्जान श्रीवास्तव, दर्शन जरिवाला, पावनी पाड़े, पदमश्री गिरिराज किशोर जैसी हस्तियां शिरकत करेंगी तथा कार्यक्रम में निर्णायक मण्डल की भूमिका में रहेंगे।

अन्तर्रागिनी के दौरान आईआईटी परिसर में ग्लैमर का तड़का भी लगेगा, जिसमें बॉलिवुड हस्तियों में अनुक्रति व्यास (मिसेज इण्डिया वर्ल्ड-2018) सहित सलोनी सेहरा भी मुख्य रूप से उपस्थित रहेंगी। इसके अलावा भी कार्यक्रम में कुछ अन्य प्रतियोगिताएं जिसमें ब्लाइंड डेट, बॉलरूम डांस, आदि भी आकर्षण का केन्द्र रहेंगे। आपको बताते चलें कि भारत के सभी प्रमुख कालेजों के कैलेण्डरों में दर्ज अन्तर्रागिनी को न केवल अपने विविध तथा बहुहिताय कार्यक्रमों के लिए जाना जाता है बल्कि यह अनगिनत सामाजिक पहलों को भी प्रेरित करने का कार्य करता है। इस कार्यक्रम से सामाजिक प्रासंगिक ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा और पैनल वार्ता में एक मजबूत आवाज मिलती है, जो उत्सव का एक अभिन्न अंग बनती है। इतना ही नहीं देश भर में अन्तर्रागिनी की आश्चर्यजनक पहुँच को देखतो हुए यो अभियान प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से लाखों लोगों को प्रभावित भी करते हैं। इस बर्ष रोटरी इंटरनेशनल ऑफ नार्थ कानपुर के सहयोग से अन्तर्रागिनी पानी बचाने, प्लास्टिक को ना कहने तथा पोलियो उन्मूलन के लिए सामाजिक पहल का काम करते हैं।

Related posts

कार्तिक पूर्णिमा के दूसरे दिन भी श्रद्धालुओं बोले हर-हर गंगे, उठाया खिचड़ी व भाटी-चोखा का आनन्द

Shubham Gaur

जा पर कृपा पुलिस की होई…ता पर कृपा करे हर कोई

Manish Dubey

जुआंरियों पर चला खुले आम कनपुरिया पुलिस लाठी और डंडा

Shubham Gaur

हाइवे पर चलने वालों थोड़ा धीरे चलो, ये कानपुर है!

Shubham Gaur

जब सईयां भए कोतवाल….देखिए इस चुलबुल पाण्डेय का टशन

Manish Dubey

कानपुर को मौत नहीं सड़क चाहिए इन्हें भी पढ़े

बृजेश शर्मा

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More