Local Heading

LUCKNOW: CAA के विरोध में हिंसा फैलाने वाले 17 फरवरी को होंगे बेनकाब

बीते 19 दिसंबर को लखनऊ में CAA के खिलाफ आगजनी और तोड़फाड मामले में 17 फरवरी को एडीएम पूर्वी की कोर्ट अपना फैसला दे सकती है.

लखनऊ (LUCKNOW): बीते 19 दिसंबर को प्रदेश की राजधानी लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ परिवर्तन चौक और हुसैनाबाद समेत अन्य स्थानों पर हुई आगजनी और तोड़फाड मामले में 17 फरवरी को एडीएम पूर्वी की कोर्ट अपना फैसला दे सकती है.

इसे भी पढ़ें: यूपी में संविदा ड्राइवर और कंडक्टरों की भर्ती के नियम बदले

बता दें कि, 19 दिसंबर को सीएए के विरोध के दौरान शहर में जबर्दस्त हिंसा और आगजनी हुई थी. उपद्रवियों ने करीब पांच घंटे शहर को बंधक बना रखा था. मेट्रो सहित परिवहन सेवाएं तक ठप कर दी गयी थी और प्रशासन ने इंटरनेट सेवाएं रोक दी थीं. परिवर्तन चौक पर हजारों प्रदर्शनकारियों ने हिंसा का सहारा लेते हुए पूरे इलाके में जबर्दस्त उत्पात मचाते हुए वाहनों को आग के हवाले कर दिया था.

इस मामले में 46 उपद्रवियों के खिलाफ रिकवरी का नोटिस जारी हुआ था. सुनवाई और जवाब दाखिल होने के बाद एडीएम पूर्वी की कोर्ट में इस पर 17 को आदेश जारी करेगी. गौरतलब है कि खदरा में मदेयगंज पुलिस चौकी को क्षतिग्रस्त किया जाने और वाहनों को फूंके जाने के मामले में एडीएम टीजी ने गुरुवार को 13 आरोपियों को दोषी पाते हुए वसूली का नोटिस जारी किया था.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More