Local Heading

LUCKNOW: अब पुलिस और पीड़ित होंगे आमन-सामने, कमिश्नर ने अभियान का किया शुभारंभ

रिज़र्व पुलिस लाइन में कमिश्नर सुजीत पांडेय ने जनसुनवाई अभियान के अंतर्गत ‘आमने-सामने’ कार्यक्रम में सभी के विवेचनाधिकारी और पीड़ित फरियादियों को आमने सामने बैठाकर सारे केस की प्रगति रिपोर्ट का जायजा लिया।

लखनऊ (LUCKNOW): रिज़र्व पुलिस लाइन में कमिश्नर सुजीत पांडेय ने जनसुनवाई अभियान के अंतर्गत “आमने-सामने” कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम में पहले दिन के सुनवाई में कई विवेचकों की पोल खुली, जिनको लाइन हाजिर किया किया गया। रिज़र्व पुलिस लाइन में हुए इस जनसुनवाई कार्यक्रम में 48 मामले आये जिसपर सुनवाई की गयी।

रिज़र्व पुलिस लाइन में कमिश्नर सुजीत पांडेय ने जनसुनवाई अभियान के अंतर्गत ‘आमने-सामने’ कार्यक्रम में सभी के विवेचनाधिकारी और पीड़ित फरियादियों को आमने सामने बैठाकर सारे केस की प्रगति रिपोर्ट का जायजा लिया।

इसे भी पढ़ें: गर्लफ्रेंड की बहन से किया बलात्कार, पुलिस ने दबोचा

कमिश्नर के साथ जेसीपी क्राइम नीलाब्जा चौधरी, जेसीपी लां एंड आर्डर नवीन अरोड़ा सहित सभी डीसीपी, एसीपी भी रहे मौजूद। पहले दिन ही कमिश्नर ने दो चौकी इंचार्ज पर विवेचना में लापरवाही करने के लिए कार्रवाई किया।

हसनगंज क्षेत्र मदेयगंज चौकी इंचार्ज प्रमोद कुमार पर कार्यवाही करते हुए इनको लाइन हाजिर किया गया । मड़ियांव क्षेत्र केशवनगर चौकी इंचार्ज डीके सिंह किये गए लाइन हाजिर। इन दोनों चौकी इंचार्जों के खिलाफ कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने प्रारंभिक जांच के आदेश दिए हैं। जनसुनवाई कार्यक्रम में पहुँचे खुद फरियादियों ने विवेचनाधिकारियों की लापरवाही को कमिश्नर के सामने की उजागर।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More