Local Heading

लॉकडाउन के कारण घर में बैठकर पढ़ाई कर रहे हैं NRI छात्र

मेरठ – कोरोना के प्रभाव से अब पूरी दुनिया प्रभावित हो चुकी है। अन्य देशों में रह रहे हजारों भारतीयों को वापस भी लाया जा चुका है और अब भी बहुत सारे लोग विदेश में ही हैं। वहां की व्यवस्था के साथ अपने को घरों में ही सीमित रखते हुए समय काट रहे हैं। इनमें से कनाडा, कतर व दुबई में रह रहे मेरठ के एनआरआइ हैं जो सपरिवार इन दिनों में घर पर ही रहते हुए बच्चों की पढ़ाई करा रहे हैं। वहीं कुछ शिक्षक भी हैं जो इन दिनों ऑनलाइन क्लास ले रहे हैं।

मीनाक्षीपुरम निवासी मनीष गुप्ता परिवार के साथ दुबई में रहते हैं। वहां पिछले कुछ दिनों से स्कूलों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। कुछ कार्यालयों में काम जरूर चल रहा है। उनका बेटा अर्णव कक्षा सातवीं में पढ़ता है। वह ऑनलाइन कोर्स मैटेरियल से घर पर ही पढ़ाई कर रहा है। स्कूल में पढ़ाए जाने वाले सभी विषयों के कंटेंट ऑनलाइन मुहैया कराएं जा रहे हैं। कनाडा में रह रहे मीनाक्षीपुरम निवासी अमित तायल के अनुसार ऐसे में बच्चों को मॉल या अन्य जगह भी बंद होने से बाहर नहीं ले जा पा रहे हैं। छोटे बच्चे घर में ही खेलकूद कर समय बिता रहे हैं।

इसे भी पढ़ें – अस्पताल प्रशासन की बड़ी लापरवाही, एम्बुलेंस चालकों को नहीं मिला मास्क और सैनिटाइजर

दुबई में शिक्षिका के तौर पर कार्यरत पारुल ने बताया कि उनकी ऑनलाइन क्लासेस सुबह सात बजे शुरू होती है और दोपहर एक बजे तक चलती है। पहले दिन ऑनलाइन क्लास में काफी दिक्कत हुई। इसमें शिक्षकों, परिजनों व बच्चे भी परेशान हुए। लेकिन सरकार की मदद से संसाधन मिले तो ऑनलाइन क्लासेस को आगे बढ़ाने में मदद मिली। अब ऑनलाइन क्लास के जरिए ही बच्चों को स्कूल की तरह की पढ़ाया जा रहा है और असेस्मेंट भी दिए जा रहे हैं। अब बच्चों को भी घर से पढ़ने में मजा आ रहा है।

साकेत स्थित मानसरोवर कॉलोनी निवासी राजकुमार भाटी कतर में एकाउंट्स के शिक्षक हैं। राज कुमार के अनुसार कतर में स्कूलों के बंद होने के बाद शिक्षकों को ऑनलाइन पढ़ाने के लिए ट्रेनिंग दी गई। इसके बाद हम सभी बच्चों को ऑनलाइन घर से ही पढ़ा रहे हैं।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More