Local Heading

मैं सौभाग्य से बचकर आया हूं – अमित शाह

मैं सौभाग्य से बचकर आया हूं – अमित शाह

रैली में हिंसा / शाह ने कहा- मैं सौभाग्य से बचकर आया, कोलकाता में मुझ पर तीन हमले हुए

14 मई को अमित शाह ने उत्तर कोलकाता से भाजपा उम्मीदवार राहुल सिन्हा के लिए रोड शो किया था. जिसके बाद हिंसा भड़क गई. वहीं, हिंसा भड़कने के बाद कोलकाता से लेकर दिल्ली तक राजनीति के गलियारों में माहौल गर्म है।

वहीं, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शाह पर निशाना साधते हुए कहा है कि अमित शाह भगवान नहीं हैं जिनके खिलाफ प्रदर्शन नहीं किया जा सकता। साथ ही ममता ने अमित शाह के साथ ही प्रधानमंत्री मोदी को हिटलर से भी ज्यादा खतरनाक कहा है।

नई दिल्ली. कोलकाता के रोड शो में हिंसा को लेकर तृणमूल कांग्रेस पर बीजेपी हमलावर है। कोलकाता से लेकर दिल्ली तक राजनीति के गलियारों में माहौल गर्म है। और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली में प्रैस कॉन्फ्रैंस कर अपने ऊपर हमले की पुष्टि की है। अमित शाह का कहना है कि  ‘हम शांति से रोड शो निकाल रहे थे, लेकिन तीन हमले हुए. हमारे पास खबर थी कि यूनिवर्सिटी से कुछ लोग आएंगे और पथराव करेंगे. शाह ने कहा है कि यूनिवर्सिटी के अंदर विद्यासागर जी की मूर्ति तृणमूल कार्यकर्ताओं ने ही तोड़ी’. वहीं, दूसरी ओर, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अमित शाह पर आरोप लगाते हुए कहा है कि क्या अमित शाह भगवान हैं, जो उनके खिलाफ प्रदर्शन नहीं किया जा सकता।

विश्वविद्यालय के अंदर से हुआ पथराव: अमित शाह

अमित शाह ने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि चुनाव में बंगाल के अलावा कहीं और हिंसा की घटनाएं नहीं हुईं। ममता बनर्जी का आरोप है कि हिंसा भाजपा कर रही है। भाजपा पूरे देश में चुनाव लड़ रही है जबकि आप सिर्फ बंगाल की 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं। किसी और राज्य में हिंसा नहीं होती, सिर्फ बंगाल की 6 सीटों पर हिंसा होती है।

अमित शाह का तृणमूल कार्यकर्ताओं पर मूर्ति तोड़ने का आऱोप

शाह ने कहा कि यूनिवर्सिटी के अंदर जाकर विद्यासागर जी की मूर्ति को किसने तोड़ा। अदंर से तो टीएमसी के कार्यकर्ता पत्थरबाजी कर रहे थे। वही डंडे लेकर बाहर आ रहे थे। भाजपा कार्यकर्ता तो बाहर थे। बीच में पुलिस थी। टीएमसी कार्यकर्ताओं ने ही ईश्वरचंद विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ी।

ममता ने भाजपा पर विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने का आरोप लगाया

ममता ने कहा, ‘‘वे (भाजपा) असंस्कारी हैं, इसलिए उन्होंने विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी। वे बाहरी हैं। क्या शाह कलकत्ता विश्वविद्यालय की विरासत के बारे में जानते हैं? क्या वे जानते हैं कि कौन सी महान हस्तियों ने यहां पढ़ाई की? इस तरह के हमले के लिए उन्हें शर्म आनी चाहिए।’’

चुनाव आयोग से मिलेगा तृणमूल प्रतिनिधिमंडल

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि कोलकाता में शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बड़े-बड़े कटआउट लगाए गए हैं। भाजपा यहां काफी पैसा खर्च कर रही है। चुनाव आयोग उनके खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं करता? इस बीच बंगाल में भड़की हिंसा को लेकर तृणमूल नेताओं का प्रतिनिधिमंडल चुनाव आयोग से मिलेगा।

वहीं, बीजेपी ने भी चुनाव आयोग से अपील की है कि ममता को पश्चिम बंगाल में प्रचार से रोकना चाहिए। बीजेपी का आरोप है कि राज्य में संविधानिक तंत्र खत्म हो गया है। शाह के रोड शो में हिंसा होने के बाद मंगलवार को केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण और मुख्तार अब्बास नकवी की अगुआई में बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात की थी। बीजेपी ने आयोग से बंगाल के मामले में तुरंत दखल देने की अपील की, ताकि वहां निष्पक्ष चुनाव कराए जा सकें।

दूसरी ओर, ममता ने एक रैली में कहा कि मोदी से सावधान रहें। वे हिटलर से भी ज्यादा खतरनाक हैं। अगर वे दोबारा सत्ता में आ गए तो देश को बेच देंगे। भाजपा बंगाल के वोटरों को लुभाने के लिए यहां हवाला के जरिए पैसा ला रही है। उन्होंने राज्य की मशीनरी को हाईजैक कर लिया है। कोलकाता में ही वोटरों को करोड़ों रुपए बांटे गए। हर वोटर को वे 5 हजार रुपए दे रहे हैं। ये चुनाव है या मजाक है।

#amitshah #mamtabanerjee #tmc #bjp

Amit Shah Attack on Mamta Banerjee

Related posts

अरुण जेटली के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगे आप

Harish Singh

ऐसे अद्भुत, अनोखे व्यक्तित्व के स्वामी थे अरुण जेटली, जानकर रह जाएंगे दंग

Ravinder Kumar

अरुण जेटली ने ऐम्स में ली अंतिम सांस, लंबे समय से चल रहे थे बीमार

Pranav Mishra

यदि देखते हैं ऐसे सपने तो बदल सकती है आपकी क़िस्मत

Pranav Mishra

पी.चिदंबरम की ये कहानी, आपको कोई नहीं बतायेगा

Ravinder Kumar

जिआ हो बिहार के लाला की तर्ज पर,अनंत सिंह का सरेंडर

Ravinder Kumar

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More