Local Heading

संघ का सर्वेः मध्यप्रदेश में भाजपा के 16 सांसदों से नाराज हैं मतदाता

भोपाल। लोकसभा चुनाव को लेकर संघ एक बार फिर मध्यप्रदेश में सक्रिय हो गया है। संघ ने अपने सर्वे की रिपोर्ट भाजपा संगठन को सौंपते हुए कहा कि राज्य के 16 सांसदों के प्रति जनता में नाराजगी है। यदि इनके टिकट नहीं काटे तो भाजपा के लिए संकट खड़ा हो जाएगा।

संघ की रिपोर्ट के मुताबिक इन 16 सासंदों के खिलाफ जनता के बीच नाराजगी है। यदि इन्हें फिर से टिकट दिया गया तो हालात मुश्किल हो सकते हैं। साथ ही रिपोर्ट में ये भी कहा कि एक दर्जन सांसद पिछले पांच साल में अपने क्षेत्र में बहुत कम सक्रिय रहे हैं। लोगों से उनका जुड़ाव नहीं है।

भाजपा के कई सांसदों के लापता होने के पोस्टर्स भी लग चुके हैं। इनमें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से लेकर खजुराहो से सांसद नागेंद्र सिंह, खरगोन सांसद सुभाष पटेल, मुरैना सांसद अनूप मिश्रा समेत कई सांसदों का नाम शामिल हैं। जनता की नाराजगी को कुछ सांसदों ने पहले ही भांप लिया है।

नागेन्द्र सिंह विधानसभा का चुनाव लड़कर विधायक बन गए हैं, तो प्रहलाद पटेल, केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर जैसे नेता लोकसभा सीटें बदलने की तैयारी कर रहे हैं। यही हाल मनोहर ऊंटवाल का है, जो विधायक बने हैं। वे अब लोकसभा के लिए चुनाव नहीं लड़ना चाहते हैं।

ग्वालियर-चंबल, विंध्य और महाकौशल के अलावा बुंदेलखंड में भाजपा को लोकसभा के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। भाजपा यहां पर जमीन से जुड़े नेता को प्रत्याशी बनाना चाहती है, मगर उसे जनता के बीच अच्छी छवि वाले प्रत्याशी नहीं मिल रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि भाजपा ने इस लोकसभा चुनाव में 29 में से 29 लोकसभा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। हालांकि विधानसभा चुनाव के परिणाम को देखा जाए तो भाजपा 17 और कांग्रेस 12 सीटों पर आगे रही है। इसके अलावा संघ की सर्वे रिपोर्ट से संगठन के नेताओं की चिंता बढ़ गई है।

Related posts

લોકસભા ચુંટણી – સુરતના ટેક્સટાઈલ માર્કેટે પ્રિયંકા સાડી લોન્ચ કરી

Sanjay Mahant

जोधपुर में पहली बार हुई घायल कोबरा की सर्जरी, 9 टांके लगाकर जंगल में छोड़ा

Mukesh Kumar

बीकानेर: भारत-पाक सीमा पर वायरल हो रहा ‘पाकिस्तानी जहर’

Anurag Harsh

ગુજરાત સભામાં સત્રના પહેલા દિવસે વિપક્ષનો હોબાળો

Alkesh Vyas

देखिये, उदयपुर में एक पुलिस अधिकारी ने कैसे जगाई राष्ट्रप्रेम की भावना

Suneeta

संभाग कमिश्नर ने निगम के इंजीनियर्स को चेतायाः होलकर राज के इंजीनियर्स से सीखो काम करना

Deepak Vishwakarma

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More