Local Heading

प्रयागराज: झूठ बोलकर छूटी लेना पड़ा वकील को महंगा

प्रयागराज(Prayagraj):ऑफिस से झूठ बोलकर छूटी लेना आम बात है. बाकी यह किसमत-किसमत की बात है कि उसकी सच्चाई कब सामने आजाती है. इसी तरह मुकदमे की सुनवाई में बीमारी बताकर विवाह समारोह में शामिल होना हाईकोर्ट के वकील को महंगा पड़ गया.

दरअसल, असलियत जाहिर होने पर कोर्ट ने कड़ा रुख अपनाते हुए अधिवक्ता त्रिपाठी बीजी भाई को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है. वकील ने कोर्ट को गलत सूचना देकर न्यायिक प्रक्रिया के दुरुपयोग करने पर स्पष्टीकरण मांगा है. कोर्ट ने कहा है कि अधिवक्ता ने बीमारी की सूचना भेजकर मुकदमे की सुनवाई में उपस्थित होने पर असमर्थता जताई है. वहीं दूसरी ओर वह सिद्धार्थनगर में शादी समारोह में गए हैं और पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं.

ये भी पढ़ें:यूपी बोर्ड परीक्षाः CCTV कैमरे बंद ना होने पाए, वरना होगा बुरा अंजाम

न्यायिक प्रक्रिया के दुरुपयोग के लिए कोर्ट ने उनके खिलाफ अवमानना कार्रवाही की . कोर्ट ने त्रिपाठी बीजी भाई को 26 फरवरी को हाजिर होने का निर्देश दिया है. यह आदेश न्यायमूर्ति विवेक अग्रवाल ने रामफेर व अन्य की प्रथम अपील पर सुनवाई के दौरान दिया.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More