Local Heading

करवाचौथ पर आधी रात तक खुली रहेंगी दुकाने

पर्व के नजदीक आने के साथ ही खरीदारी तेज हो गई है और मार्केट में भीड़ भी. बाजारों में आधी रात तक चहल-पहल रहेगी. दुकानें भी खुली रहेंगी.

प्रयागराज(Prayagraj): अखंड सुहाग की कामना से किया जाने वाला करवा चौथ का व्रत इस बार 17 अक्टूबर को है. यह व्रत कार्तिक मास की कृष्ण चतुर्थी को किया जाता है. करवाचौथ के लिए बाजारों में चहल-पहल बढ़ गई है. दुकानें भी सज चुकी हैं. करवाचौथ के लिए शहर के प्रमुख बाजारों समेत मोहल्‍लों में पूजा और श्रृंगार के सामान बिक रहे हैं.

खरीदारी तो पिछले कई दिनों से हो रही है, लेकिन पर्व के नजदीक आने के साथ ही खरीदारी तेज हो गई है और मार्केट में भीड़ भी. बाजारों में आधी रात तक चहल-पहल रहेगी. दुकानें भी खुली रहेंगी.

पति के लिए रखा जाता है व्रत
बता दें कि करवाचौथ के दिन सुहागिन स्त्रियां पति के मंगल और समृद्धि के लिए व्रत करती हैं. इस व्रत में सुहागिनें उस दिन सूर्योदय के पहले से चन्द्रमा निकलने तक निर्जला व्रत करती हैं. दिनभर भजन और मांगलिक एवं सात्विक कार्यो में व्यतीत रहती हैं. शाम से ही चन्द्र दर्शन तथा उसे अर्घ्य देने की तैयारी करती हैं. उस दिन वे सुन्दर वस्त्र तथा आभूषण धारणकर सम्पूर्ण श्रृंगार कर करवा की पूजा करती हैं. वहीं अर्घ्य देने के बाद ही वह कुछ ग्रहण करती हैं.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More