Local Heading

कोटा में पानी का टोटा

कोटा: चंबल के किनारे बसा शहर कोटा इन दिनों पानी की किल्लत से गुजर रहा है, जिससे शहर के बाशिंदों को पीने के पानी के लिए घर से दूर जाना पड़ता है. पानी की समस्या से यहां की जनता काफी समय से जूझ रही है. सबसे बुरा हाल कोटा मेडिकल कॉलेज के पास बसी हुई एक कच्ची बस्ती का है, जहां कहने को तो सरकारी नल लगे हुए हैं और आसपास ट्यूबवेल कनेक्शन भी दिए हुए हैं, लेकिन पूरे दबाव से पानी नहीं आता है. ऐसे में कीचड़ के नजदीक ही पानी भरना लोगों की मजबूरी बन गई है.

रिपोर्ट के मुताबिक उक्त कच्ची बस्ती में रहते करीब 500 परिवार है और कमोबेश हर घर का यही हाल है, जहां पानी को लेकर पूरी बस्ती में त्राहि-त्राहि मचा रहता है, क्योंकि पानी की जरूरत हर व्यक्ति को है और उसमें बच्चे से लेकर बूढ़े सभी शामिल हैं. बच्चे भी अपने हिस्से का पानी लेने के लिए सरकारी नलों पर पहुंच जाते हैं और घंटों कतार में खड़े होकर अपने परिवार के लिए पानी लेकर आते हैं. पानी की समस्या से त्रस्त बस्ती के लोगों का कहना है कि 3 दिन में एक बार नहाना इस भीषण गर्मी में उनकी मजबूरी है, क्योंकि पानी नहीं होता है.

उन्होंने बताया कि पानी की किल्लत के चलते छोटे-छोटे बच्चों को भी पानी को ढोते हुए देखा जा सकता है, जो कि पसीना-पसीना हो जाते हैं. मासूमों को परिवार के लिए पानी इकट्ठा करने के लिए दूर सरकारी नल पर जाना पड़ता है और कड़ी धूप में खड़े रहकर पानी भरते हैं, फिर कड़ी धूप में सिर या साइकिल पर पानी की कैन रखकर घर पहुंचते हैं. पानी की समस्या से जूझ रहे बस्ती के लोगों के दर्द की सुनवाई किसी सरकारी महकमें भी नहीं हो रही है.

#kota #rajasthan

Related posts

9 साल के बच्चे को आवारा कुत्ते ने नोंचा, मौत

Ramta

इन प्रदेशों के प्रसिद्ध व्यंजनों की होगी जांच

Ramta

जब कोर्ट में घुसी बंदरों की सेना

Ramta

छिलते वक्त पेंसिल दूसरे छात्र की आंख में घुसी, बच्चे पर एफआईआर दर्ज

Ramta

फेमस हुई किसान की बेटी ऋचा तोमर, चुनी गई सर्वश्रेष्ठ आईपीएस लेडी

Ramta

ऑपरेशन कर महिला के पेट में छोड़े गॉज और कॉटन के टुकड़े

Ramta

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More