Local Heading

फिरोजाबाद: मकान मालिक ने मजदूर दम्पति को घर से निकाला, महिला थी गर्भवती

फिरोजाबाद में लॉकडाउन के बीच एक मजदूर दम्पति को उसके मकान मालिक ने घर से बाहर निकाल दिया. वो भी उस समय जब महिला गर्भवती है

फिरोजाबाद(Firozabad): फिरोजाबाद में लॉकडाउन के बीच एक मजदूर दम्पति को उसके मकान मालिक ने घर से बाहर निकाल दिया. वो भी उस समय जब महिला गर्भवती है. और एक छोटा बच्चा भी साथ मे है रोते हुए दम्पति को जब कुछ लोगों ने जाते हुए देखा तो उन्हें तरस आया तो उन्होंने मेडिकल कालेज में बन रहे फ्लैट में दम्पति को ठहराया और खाने का सामान भी दिया. अब कुछ सामाजिक संस्थानों ने भी मोके पर पहुंच खाने का सामान व रुपया दिया है.

इसे भी पढ़े: बूंदी: सिलेंडर में रिसाव से बस्ती के आधा दर्जन घरों में लगी आग

दरसल पूरा मामला थाना उत्तर क्षेत्र से जुड़ी हुई है. जहां एक सोनू नाम का मजदूर अपनी पत्नी बच्चे के साथ मथुरा नगर में किराए पर रहता था. दिन रात मेहनत करके वो अपने परिवार का भरण पोषण कर रहा था. लेकिन इस कोरोना काल मे उसका काम छीन गया खाने के लिए भी वो मोहताज हो गया. ऐसे में अगर पीड़ित की माने तो मकान मालिक ने उसका सामान रख घर से बेघर कर दिया. पहले तो मकान मालिक ने बिजली सप्लाई बंद कर दी. जिससे गर्मी सहना इस परिवार के लिए असहनीय हो गया क्योंकि पीड़ित की पत्नी गर्भवती महिला है. उसका 1 छोटा बच्चा भी है लिहाजा परिवार को मकान छोड़ने के अलावा कोई रास्ता नही दिखा और अंत मे मकान मालिक ने सामान रखकर उसे बेघर कर दिया

वहीं जब ये दम्पति रोते हुए निकल रहे थे. तब एक बुजुर्ग महिला जो इन्हें जानती थी. सभी को अपने साथ लाई और मेडिकल कालेज में हो रहे निर्माण के 1 कमरे में रहने को दिया. साथ ही पंखा और खाने के लिए भी दिया पर इतने से गुजारा नहीं होने वाला था. लिहाजा किसी ने सामाजिक संस्था को ये बात बताई. तो रेड क्रॉस के टीम के 2 लोग पहुंचे. उन्होंने भी गरीब मजबूर मजदूर की मदद की और बच्चों के लिए दूध की भी व्यवस्था की कुछ धनराशि भी दिया.

रिपोर्टर- वेदप्रकाश सिंह (फिरोजाबाद)

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More