Local Heading

महारजगंज: नेपाली युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

महराजगंज जनपद के भारत नेपाल सीमा के समीप एक क्वारंटाइन सेंटर में प्रशासन द्वारा रखे गए नेपाली नागरिकों में से एक नेपाली युवक की आज सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई.

महराजगंज(Maharajganj): महराजगंज जनपद के भारत नेपाल सीमा के समीप एक क्वारंटाइन सेंटर में प्रशासन द्वारा रखे गए नेपाली नागरिकों में से एक नेपाली युवक की आज सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. वही मौके पर पहुंची पुलिस और प्रशासन की टीम शव को कब्जे में लेकर जांच में जुट गया है. मृतक नेपाली युवक के ब्लड सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजी जा रही है. वहीं इसकी सूचना नेपाली प्रशासन को भी दे दी गई है.

इसे भी पढ़े: भिण्ड: कोरोना से स्वस्थ हुए युवक ने शायराना अंदाज में की हौसला अफजाई

कोरोना संक्रमण और लॉक डाउन के कारण बीते 18 मई को अलीगढ़ से नेपाली कामगारों के एक जत्था अपने वतन जाने के लिए महराजगंज जनपद के सोनौली सीमा पर पहुंचा था. लेकिन सीमा सील होने के कारण नेपाली प्रशासन ने उन्हें नेपाल में प्रवेश की अनुमति नहीं दी. जिसके बाद भारतीय प्रशासन ने सभी नेपाली नागरिकों को सरहद के समीप नौतनवा कस्बे में स्थित एक कालेज में बनाए गए क्वारंटाइन सेंटर में रखकर सभी के रहने, खाने सहित अन्य स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई गई. वहीं शुक्रवार की सुबह क्वारंटीन किए गए एक युवक की तबीयत बिगड़ने लगी. जिसके बाद प्रशासन एंबुलेंस से युवक को जिला अस्पताल ले गया. जहां पर मौजूद डॉक्टर ने उपचार कर उसे क्वारंटाइन सेंटर वापस भेज दिया

वहीं शनिवार की भोर में क्वॉरेंटाइन सेंटर में ही युवक की अचानक मौत हो गई. जिसके बाद हड़कंप मच गया. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस और प्रशासन ने युवक के शव को कब्जे में ले लिया और इसकी सूचना नेपाली प्रशासन को दे दी है. जिलाधिकारी डॉक्टर उज्जवल कुमार ने बताया कि नेपाली युवक की मौत का कारण स्पष्ट नहीं है. उसके खून के नमूने कोरोना जांच के लिए भेजी जा रही है.

रिपोर्टर- अजय जायसवाल (महाराजगंज)

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More