Local Heading

चुनावी साल में रंग गुलाल और पिचकारी पर भी छाए मोदी-योगी

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कितने बड़े ब्रांड बन चुके हैं, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कारोबारी होली के दौरान होली से जुड़ी सामाग्रियों की बिक्री मोदी नाम से कर रहे हैं। मोदी के नमो स्टोर से मोदी टी शर्ट, मोदी कैप एवं कई चीजों की बिक्री पहले से ही हो रही है। राजधानी के थोक से लेकर फुटकर बाजारों में कारोबारी ब्रांड मोदी को भुनाने में कोई कसर नहीं छोडऩा चाहते हैं। यहियागंज के थोक बाजार से लेकर अमीनाबाद, आलमबाग समेत हर जगह होली पर पिचकारी ले कर टोपी व कलर भी मोदी ब्रांड के बिक रहे हैं। यहियागंज बाजार में थोक कारोबारी अमरनाथ मिश्र ने बताया कि कारोबारियों को पता है कि प्रधानमंत्री मोदी का नाम जुडऩे से उनके आइटम की बिक्री आसानी से हो जाती है। ऐसे में खुले में बेचे जाने वाले गुलाल, टोपी जैसे आइटम को मोदी के नाम से जोड़कर बेच रहे हैं ताकि खूब बिक्री हो सके। उन्होंने बताया कि हल्की केसरिया गुलाल को मोदी गुलाल का नाम दे दिया गया है। बाजार में इस गुलाल की भारी मांग है।

राजधानी के बाहर भी खुदरा कारोबारी इसके खूब आर्डर दे रहे हैं। एक अन्य कारोबारी अमन बजाज ने बताया कि उन्होंने टोपी निर्माताओं से टोपी के ऊपर मोदी कैप लिखने के लिए कहा है। बताया कि इस बार होली के बहाने राजनैतिक पार्टियां जमकर चुनाव प्रचार करेंगी। चुनाव प्रचार के दौरान टोपियां पहनी भी जाती हैं और बांटी भी। ऐसे में मोदी के नाम की टोपी की मांग हो रही है। टोपी के सप्लायर अजय जैन ने बताया कि कई जगहों से मोदी टोपी की मांग की जा रही है। कारोबारियों ने बताया कि इस बार चुनावी होली है। होली मौज-मस्ती का पर्व है। ऐसे में, हर सामान को राजनैतिक रूप देकर बेचने की कोशिश की जा रही है।

बाजार में सर्जिकल स्ट्राइक और इंडियन आर्मी पिचकारी की धूम
होली में अभी भले ही सप्ताह भर का समय है पर उसकी रंगत अभी से दिखने लगी है। पिचकारी व रंग गुलाल की मार्केट गुलजार हो गई है। इस बार मार्केट में सर्जिकल स्ट्राइक व इंडियम आर्मी के नाम से आई पिचकारी लोगों को लुभा रही है। हालांकि जीएसटी की वजह से पिचकारी के दामों में करीब 20 फीसदी तक बढ़ोतरी हुई है। फिर भी रंग गुलाल व पिचकारी की मार्केट सज गई हैं। मार्केट में दस रुपए से लेकर एक हजार रुपए तक की पिचकारी उपलब्ध है। हालांकि 100 से 200 रुपए तक की पिचकारी लोगों की पसंद हैं। इसमें प्रेसर टैंक, बैग वाली पिचकारी, सर्जिकल स्ट्राइक व इंडियम आर्मी पिचकारी, मशीनगन, वाटर गन की डिमांड ज्यादा है। बच्चे डोरेमन, पोकेमन, छोटा भीम व गणेशा वाली पिचकारी खरीद रहे हैं।

पहली बार आया कलर बम
पहली बार मार्केट में होली पर्व को लेकर कलर बम आया है। जिसे दागने पर रंग व गुलाल निकलता है। कलर बम का रेट 15 व 35 रुपए प्रति पीस है। वहीं फाग स्प्रे भी मार्केट में उपलब्ध है। जिसकी काफी डिमांड है। फाग स्प्रे के दाम 35, 50 व 100 रुपए प्रति पीस है। पिचकारी दुकान के संचालक अब्दुल ने बताया कि बीते वर्ष की तुलना में इस बार दाम बढ़े हैं। इसके पीछे पिचकारियों पर लगने वाले 12 प्रतिशत जीएसटी है। इस वजह से पिचकारियों के दाम 12 से 20 प्रतिशत तक बढ़ गए हैं।

Related posts

नई दिल्ली मेट्रो का नया फरमान, बिना टिकट पकड़े गए तो होगा चालान

Local News Desk

भगवान परशुराम प्रकट्योत्सव पर मथुरा में लगेंगे रक्तदान शिविर

Local News Desk

अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और योगेंद्र यादव के खिलाफ गैरजमानती वारंट की सुनवाई टली

Local News Desk

सामूहिक दुष्कर्म, परिवार के 14 लोगों का कत्ल और 17 साल के संघर्ष के बाद मिला न्याय। ये है बिलकिस बानो की आपबीती

Local News Desk

दिल्ली सहित यूपी के कई रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी, हाई अलर्ट जारी

Local News Desk

बॉलीवुड का भाजपा में बढ़ रहा कद, अभिनेता सनी देओल हुए शामिल

Local News Desk

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More