Local Heading

अब भिखारियों को नौकरी देगी सरकार

लखनऊ(Lucknow)- युवा से लेकर लगभग हर एक वर्ग देश में बेरोजगारी की मार झेल रहा है. जिसमें से कई लोग भीख मांगने तक को मजबूर हैं, लेकिन अब ऐसे लोगों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार एक नया कदम उठाने जा रही है. जिसके अंतर्गत लखनऊ में सार्वजनिक स्थलों पर भीख मांगने वालों भिखारियों के लिए नगर निगम ने एक रोडमैप तैयार किया है, जिसमें भिखारियों को घर-घर कूड़ा बटोरने के काम पर लगाया जाएगा. इसके लिए निगम उन्हें पैसा भी मुहैया कराएगा. नगर निगम के कर्मचारियों ने भिखारियों का सर्वे भी शुरू कर दिया है.

दरअसल, लखनऊ शहर के हर ट्रैफिक सिग्नल और सार्वजनिक स्थानों पर भीख मांगने वालों की हालत देखकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काफी नाराज हैं. इनके खिलाफ कार्रवाई को लेकर एक बार फिर शासन ने आदेश जारी किया है. ऐसे में नगर निगम पहली बार शहर के सभी आठों जोन में भीख मांगने वालों को चिह्नित करने के लिए अभियान चलाएगा.

अधिकारियों के मुताबिक वे अपने जोन में ट्रैफिक सिग्नलों और सार्वजनिक स्थानों पर भीख मांगने वालों पर कार्रवाई करें. नगर आयुक्त ने बताया कि भिखारियों को शेल्टर होम में रखा जाएगा. बता दें कि नगर निगम ने तकरोही में एक शेल्टर होम भिखारियों के लिए काम करने वाली संस्था को चलाने के लिए दिया है. यहां भिखारियों को रखा जा रहा है.

हालांकि भिक्षावृत्ति प्रतिषेध अधिनियम के तहत भीख मांगना कानूनन जुर्म है. इसके तहत भीख मांगने वाले व्यक्ति को पुलिस गिफ्तार करके समाज कल्याण विभाग के राजकीय भिक्षु गृह में भेजना होता है. लेकिन, हर शहर में खुलेआम भीख मांगते यह भिखारी सरकार की अव्यवस्था का सीधा परिचय देते हैं.

बता दें कि नगर निगम की भिखारियों को काम दिलवाने की इस योजना से पहले यूपी के कई जिलों में राजकीय भिक्षु गृह बंद हो चुके हैं, तो अब देखना होगा कि सरकार की ये योजना कितने समय तक कार्यरत रहती है.

Related posts

चॉकलेट के लिए मेडिकल कॉलेज की छात्राओं के बीच जमकर चले लात-घूंसे

Deepanshi

दिन दहाड़े शिक्षक की मौत, प्रेम प्रसंग में गयी जान

Asif Ali

एन्टीरोमियो स्क्वायड द्वारा बालिका सुरक्षा जागरूकता अभियान

Pebble Originals

शौचालय पर लटका ताला, कहां जा रहे गांव वाले

Asraf Ansari

कहीं यूं ही न मर ना जाए ‘उर्दू-पंजाबी भाषा’

Ravinder Kumar

इस गांव में होती है मरे हुए लोगों की शादी!

Deepanshi

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More