Local Heading

पैसे कम पड़ने पर डॉक्टरों ने कूड़ेदान में फेंकी मरीज की आंते

अलीगढ़ से डॉक्टरों की हैवानित का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर आपकी रुह कांप जाएगी. यहां एक मरीज की आंतें काटकर डॉक्टरों ने कूड़ेदान में डाल दी.

अलीगढ़(Aligarh)- डॉक्टर को भगवान का रूप माना जाता है. लेकिन अलीगढ़ से डॉक्टरों की हैवानित का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर आपकी रुह कांप जाएगी. अलीगढ़ के रामघाट रोड स्थित मिथराज हास्पिटल में मंगलवार को एक मरीज की आंतें काटकर कूड़ेदान में डालने का मामला सामने आया है.

इस मामले के बाद हंगामा शुरू हो गया. परिजनों से बातचीत में पता चला की मरीज के इलाज में करीब चार लाख रुपये पहले ही लग चुके थे. इसके बाद हॉस्पिटल परिसर ने आपरेशन थिएटर में ले जाकर मरीज का फटा पेट और बाहर निकली आंतें दिखाकर डेढ़ लाख रुपये का और इंतजाम करने के लिए कहा. लेकिन इसी बीच मरीज की मौत हो गई.

मरीज की मौत से गुस्साए परिजनों व अन्य लोगों ने हास्पिटल में जमकर प्रदर्शन किया. मौके पर पहुंची पुलिस ने कूड़ेदान में मिली आंतों को सील कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा. शिकायत पर जिलाधिकारी ने मामले की जांच के लिए चार सदस्यीय डाक्टरों का पैनल गठित किया गया है. वहीं तीन डाक्टरों का एक अलग पैनल शव का पोस्टमार्टम करेगा.

हरदुआगंज के भीम नगर में रहने वाले वीरपाल (45) का परिवार राजमिस्त्री का काम करता था. उसके पिता सुरेश ने बताया कि बीते एक जुलाई को वीरपाल को पेट दर्द की शिकायत हुई, जिसके बाद उसे रामघाट रोड स्थित मिथराज हास्पिटल में भर्ती कराया गया. दो जुलाई को वीरपाल का आपरेशन हुआ और उसे आईसीयू में भर्ती कर दिया गया.

इस दौरान उनका करीब चार लाख रुपया खर्च हो गया, जो रिश्तेदारों और परिचितों से कर्ज लिया गया था. चार दिन बाद डाक्टरों ने जैसे ही वीरपाल को पानी आदि दिया उसका पेट फूलने लगा. परिजनों का कहना है कि जब उन्होंने डॉक्टरों से कहा कि मरीज को जनरल वार्ड में भर्ती कर दें, तो वो नहीं माने. डॉक्टर्स दूसरे आपरेशन की बात कहने लगे. जिसके बाद वीरपाल की हाल बिगड़ने से उनकी जान चली गई. 4 सदस्य टीम ने पहुंचकर दोनों पक्षों के बयान लिए हैं. फिलहाल इस मामले में जांच जारी है.

Related posts

चॉकलेट के लिए मेडिकल कॉलेज की छात्राओं के बीच जमकर चले लात-घूंसे

Deepanshi

दिन दहाड़े शिक्षक की मौत, प्रेम प्रसंग में गयी जान

Asif Ali

एन्टीरोमियो स्क्वायड द्वारा बालिका सुरक्षा जागरूकता अभियान

Pebble Originals

शौचालय पर लटका ताला, कहां जा रहे गांव वाले

Asraf Ansari

इस गांव में होती है मरे हुए लोगों की शादी!

Deepanshi

थाने में चलाया गया स्वछता अभियान

Asraf Ansari

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More