Local Heading
इस मजार में खोए हुए प्यार को पाने के लिए सिगरेट चढ़ाते हैं लोग! 2 cigarettes

इस मजार में खोए हुए प्यार को पाने के लिए सिगरेट चढ़ाते हैं लोग!

नवाबों के शहर लखनऊ में एक ऐसी मज़ार है जहां चादर की जगह सिगरेट चढ़ाई जाती है. यहां नहीं इस मजार में सिगरेट के साथ-साथ शराब भी चढ़ायी जाती है.

लखनऊ(Lucknow)- आप अगर मजार गए हो तो वहां चढ़ाई जाने वाली चादर पर आपका ध्यान जरूर गया होगा. मजारों पर चादर व अगरबत्ती चढ़ाकर दुआ करने का रिवाज है. लेकिन नवाबों के शहर लखनऊ में एक ऐसी मज़ार है जहां चादर की जगह सिगरेट चढ़ाई जाती है. यहां नहीं इस मजार में सिगरेट के साथ-साथ शराब भी चढ़ायी जाती है.

ये मजार लखनऊ के मूसाबाग में स्थित है. यहां पर इस रिवाज के पीछे एक लम्बी कहानी है. दरअसल ये मजार अंग्रेज़ कैप्टन वेल्स की है जिसे लोगअब कप्तान बाबा की मज़ार कहने लगे हैं. इस मजार पर ज्यादातर प्रेमी युगल आते हैं. ऐसी मान्यता है कि इस मजार पर सिगरेट चढाने से प्रेमी या प्रेमिका को अपना खोया हुआ प्यार मिल जाता है. यहां पर आप को काफी मात्रा में सिगरेट जलती हुई मिल जाएंगी.

वैसे तो ये मजार एक क्रिश्चियन सिपाही की है, लेकिन आज के समय में यहां पर हिन्दू और मुस्लिम दोनों ही धर्म के लोग आते हैं और अपनी मन्नत को पूरी करने के लिए सिगरेट जलाते हैं. यहां पर आने वाले मजार पर अगरबत्ती व चादर की जगह बाबा को खुश करने के लिए जली सिगरेट चढ़ाते हैं. दरअसल ऐसा माना जाता है कि अंग्रेज़ कैप्टन वेल्स को सिगरेट पीने का बहुत शौक था, जिसके चलते यहां आने वाले लोग इन्हें खुश करने व अपनी मन्नत मनवाने के लिए सिगरेट चढ़ाते हैं.

Related posts

लखनऊ के पास के इलाकों में भी हाल ठीक नहीं, केशव जी! बाराबंकी में पीडब्लूडी (PWD) की करामात देखिये!

Alok Verma

LUCKNOW: अयोध्या फैसले पर AIMPLB दायर करेगा रिव्यू पिटीशन, दूसरी जगह जमीन लेने से इनकार

kaushalendra kanojia

लखनऊ(LUCKNOW) के नवाबों! आपकी हवा भी बेकार, पानी भी है जहरीला!

Alok Verma

लखनऊ में फरवरी 2020 में होने वाले डिफेंस एक्सपो की तैयारियां तेज

kaushalendra kanojia

LUCKNOW: सीएमएस के वार्षिकोत्सव में नमराह फारूखी बनी हिंदी सोलो सिंगिंग की विजेता

Raman Mishra

किसान यूनियन की चेतावनी, मुआवजा नहीं मिला तो लखनऊ एयरपोर्ट के रनवे पर चलेगा ट्रैक्टर

Raman Mishra

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More