Local Heading

चार महिने के बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा बवाल का आरोपी

हल्द्वानी। चार महिने पहले एक बच्चे की मौत के बाद हुये बवाल में बस तोड़ने के एक आरोपी को पकड़ने में पुलिस को चार महिने लग गये. पुलिस से आंखमिचैली खेलकर अभी तक पुलिस के फंदे से बच रहे इस बवाली को पुलिस ने पकड़कर कोर्ट में पेश कर दिया जहां से उसे जेल भेज दिया गया.

मामला 16 जनवरी का है जबकि चोरगलिया रोड पर चालक की लापरवाही के चलते एक पांच साल के मासूम की बस की चपेट मेंआने से मौत हो गई थी. बच्चे की मौत के बाद हुये बवाल में गुस्साई भीड़ ने बस में तोड़फोड़ करते हुये पुलिसकर्मियों पर पथराव करते हुये पुलिस को भी दौड़ा लिया था. बवाल के कुछ शांत होने के बाद पुलिस ने दर्जन भर धाराओं में इसका मुकदमा दर्ज करते हुये आरोपियो की धरपकड़ शुरु की थी.

पुलिस की जांच में अपराधिक इतिहास की पृष्ठभूमि वाले बरीश पुत्र लतीफ निवासी वनभूलपुरा का नाम भीड़ को उसकाने वालो में आया था. तभी से पुलिस उसकी तलाश में जुटी थी लेकिन बरीश हर बार पुलिस को गच्चा देकर फरार हो जाता था.

वनभूलपुरा थाने के एसओ दिनेशनाथ महंत ने पुलिस टीम के साथ व्यूहरचना करते हुये बरीश को इन्द्रानगर से घेराबंदी करते हुये पकड़कर न्यायालय में पेश किया जहां से आरोपी को न्यायालय के आदेश पर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया. पुलिस रिकार्ड के अनुसार पकड़े गये बवाल के आरोपी पर हल्द्वानी कोतवाली में ही भारतीय दंड संहिता की धारा 392, 411, व 398, 401 के साथ ही चाकूबाजी के मुकदमे पहले से ही दर्ज हैं.

Related posts

उत्तराखंड का बजा डंका, डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘मोतीबाग’ ऑस्कर के लिए हुई चयनित

Harish Singh

दिल्ली में चंद मिनटों में तय होगा, आधे घंटे का सफर

Ravinder Kumar

स्वच्छता पर पलिताः सड़क के किनारे बिखरा कूड़ा, बना आवारा पशुओं का अड्डा

Jagdish Pokhariyal

इस रोमांटिक गढ़वाली गीत को सुने बिना नहीं रह पाएंगे आप

Harish Singh

ग्रामीणों ने लोनिवि पर लगाया पेड़ों को नुकसान पहुंचाने का आरोप

Jagdish Pokhariyal

पॉलिथीन जमा करने पर मिलेगा 10 हजार का इनाम

Harish Singh

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More